What is Bio-Bubble in Hindi | स्पोर्ट्स में बायो-बबल क्या है ?

BIO-BUBBLE

What is Bio-bubble ?

Noble coronavirus pandemic के बीच ऐसा लग रहा था जैसे सारा कुछ थम-सा गया है। लेकिन ज़िन्दगी थमने का नहीं चलते रहने का नाम है। तो इसी pandemic के बीच 19 सितम्बर से India का सबसे बड़ा त्यौहार Indian Premier League UAE में “bio-bubble” में आयोजित होने वाला है।

तो आइये जानने की कोशिश करें कि क्या है ये bio-bubble?

Bio-bubble एक Bio- secure environment है जिसे COVID-19 के प्रसार को रोकने के लिए बनाया गया है।

Bio-bubble में खिलाड़ियों को ठहरने के लिए कुछ होटलों का चुनाव किया जाता है।

खिलाड़ी बस इन होटलों से मैदान तक की दूरी तय करते हैं।

उन्हें बाहर किसी से मिलने की अनुमति नहीं होती है।

अगर खिलाड़ी किसी बाहरी व्यक्ति से नहीं मिलेंगे तो उन्हें COVID-19 नहीं होगा।

Bio-bubble का उद्देश्य टीमों को बाहरी दुनिया से अलग रखना है।

Match officials जैसे अंपायर, रेफरी आदि इनमें शामिल होते हैं।

ऐसा इसलिए ताकि COVID-19 के संक्रमण के जोखिम को बहुत कम किया जा सके।

Bio-bubble in Cricket

दोस्तों, अभी तक bio-bubble में क्रिकेट का सफल आयोजन England Vs West Indies Series, England Vs Pakistan Series, Caribbean Premier League और England Vs Australia Series में किया जा चूका है।

Bio-bubble in IPL

इस बार का IPL UAE में bio-bubble में खेला जाने वाला है।

इसके लिए खिलाड़ियों को सबसे पहले UAE पहुँचने पर 14 दिन के self-quarantine में रहना पड़ा।

इस दौरान उनका 3 बार COVID test किया गया।

इस टेस्ट में कुछ खिलाड़ियों और उनके support staffs का टेस्ट positive आया था।

उन्हें बाकी खिलाडियों से अलग रखा गया।

उन्हें कुछ और दिन quarantine में गुजरना पड़ा।

इसके बाद उनका फिर से 3 बार COVID test किया गया।

टेस्ट negative आने पर ही उन्हें टीम के साथ जुड़ने की अनुमति मिली।

टूर्नामेंट के दौरान खिलाड़ियों और support staffs का हर छठवें दिन टेस्ट होता रहेगा।

इस दौरान जो भी खिलाड़ी बाद में UAE पहुंचेंगे उन्हें एहतियातन 36 घंटे का quarantine गुजारना होगा।

ऐसा इसीलिए क्योंकि वे अपने देश के टीमों के लिए bio-bubble में खेल रहे थे।

इस टूर्नामेंट के दौरान दर्शकों के मैदान आने पर पाबन्दी होगी।

हो सकता है कि उन्हें बाद के मैचों के लिए social-distancing का ध्यान रखते हुए मैदान में जाने की अनुमति मिले।

बस मैचों का सीधा प्रसारण होगा और जितने भी broadcasting crew members होंगे उनका भी 6 दिनों के अंतराल में टेस्ट होता रहेगा।

इन्हें भी देखें:



उम्मीद है आपको ये पोस्ट What is Bio-bubble in Hindi पसंद आया होगा। अपने विचार comments के माध्यम से जरूर share करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: