Mahatma Gandhi Quotes in Hindi | महात्मा गांधी के प्रसिद्ध कथन

Mahatma Gandhi

Mahatma Gandhi Quotes in Hindi

Mohandas Karamchand Gandhi जिन्हें Mahatma Gandhi के नाम से जाना जाता है, का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को हुआ था।

वे एक भारतीय वकील, उपनिवेशवाद विरोधी राष्ट्रवादी और राजनीतिक नैतिकतावादी थे।

गांधीजी ने ब्रिटिश शासन से भारत की स्वतंत्रता के सफल अभियान का नेतृत्व करने के लिए अहिंसक प्रतिरोध का काम किया और दुनिया भर में नागरिक अधिकारों और स्वतंत्रता आंदोलन के लिए लोगों को प्रेरित किया।

दक्षिण अफ्रीका में 1914 में पहली बार उनके लिए सम्माननीय ‘महात्मा’ शब्द का उपयोग किया गया, जो अब दुनिया भर में उपयोग किया जाता है। आधुनिक भारत के निर्माण में उनके योगदान ने उन्हें “राष्ट्रपिता” की उपाधि दी।

आइये देखें उनके द्वारा कहे गए कुछ प्रसिद्ध कथनों को-

Mahatma Gandhi Quotes in Hindi

1. You must be the change you wish to see in the world.

– आपको वह परिवर्तन होना चाहिए जो आप दुनिया में देखना चाहते हैं।

 

2. The best way to find yourself is to lose yourself in the service of others.

– खुद को खोजने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप खुद को दूसरों की सेवा में खो दें।

 

3. It is health that is real wealth and not pieces of gold and silver.

– यह स्वास्थ्य है जो वास्तविक धन है न कि सोने और चांदी के टुकड़े।

 

4. The weak can never forgive. Forgiveness is the attribute of the strong.

– कमज़ोर कभी माफ नहीं कर सकते। क्षमा ताकतवर की विशेषता है।

 

5. The greatness of a nation can be judged by the way its animals are treated.

– किसी राष्ट्र की महानता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उसके जानवरों के साथ कैसा व्यवहार किया जाता है।

 

6. Satisfaction lies in the effort, not in the attainment, full effort is full victory.

– संतोष प्रयास में निहित है, प्राप्ति में नहीं, पूर्ण प्रयास पूर्ण विजय है।

Quotes of Mahatma Gandhi

7. The good man is the friend of all living things.

– अच्छा आदमी सभी जीवित चीजों का दोस्त है।

 

8. My life is my message.

– मेरा जीवन मेरा संदेश है।

 

9. There is more to life than increasing its speed.

– इसकी गति बढ़ाने की अपेक्षा भी जीवन में बहुत कुछ है।

 

10. In prayer it is better to have a heart without words than words without a heart.

– प्रार्थना में दिल के बिना शब्दों के बजाय शब्दों के बिना दिल का होना बेहतर है।

 

11. Prayer is the key of the morning and the bolt of the evening.

– प्रार्थना सुबह की चाभी है और शाम की सिटकनी।

 

12. Honest disagreement is often a good sign of progress.

– ईमानदार असहमति अक्सर प्रगति का एक अच्छा संकेत है।

महात्मा गांधी के प्रसिद्ध कथन

13. I am prepared to die, but there is no cause for which I am prepared to kill.

– मैं मरने के लिए तैयार हूँ, लेकिन ऐसा कोई कारण नहीं है जिसके लिए मैं मारने को तैयार हूँ।

 

14. It is the quality of our work which will please God and not the quantity.

– यह हमारे काम की गुणवत्ता है जो भगवान को खुश करेगा न कि मात्रा।

 

15. The essence of all religions is one. Only their approaches are different.

– सभी धर्मों का सार एक है। केवल उनके दृष्टिकोण अलग हैं।

 

16. To believe in something, and not to live it, is dishonest.

– किसी चीज पर विश्वास करना और उसे न जीना बेईमानी है।

 

17. No culture can live if it attempts to be exclusive.

– कोई भी संस्कृति जीवित नहीं रह सकती है यदि वह अनन्य होने का प्रयास करती है।

 

18. Morality is the basis of things and truth is the substance of all morality.

– नैतिकता चीजों का आधार है और सत्य सभी नैतिकता का पदार्थ है।

More Quotes of Mahatma Gandhi

19. Those who say religion has nothing to do with politics do not know what religion is.

– जो लोग कहते हैं कि धर्म का राजनीति से कोई लेना-देना नहीं है, वे नहीं जानते कि धर्म क्या है।

 

20. Man becomes great exactly in the degree in which he works for the welfare of his fellow-men.

– मनुष्य उस हद तक महान बन जाता है, जिसमें वह अपने साथी-पुरुषों के कल्याण के लिए काम करता है।

 

21. Glory lies in the attempt to reach one’s goal and not in reaching it.

– महिमा किसी के लक्ष्य तक पहुँचने की कोशिश में है न कि उस तक पहुँचने में।

 

22. Non-violence is the article of faith.

– अहिंसा आस्था का लेख है।

 

23. Fear has its use but cowardice has none.

– डर का अपना उपयोग है, लेकिन कायरता का कुछ नहीं।

 

24. Prayer is a confession of one’s own unworthiness and weakness.

– प्रार्थना स्वयं की अयोग्यता और कमजोरी का स्वीकार है।

 

25. Man can never be a woman’s equal in the spirit of selfless service with which nature has endowed her.

– निस्वार्थ सेवा की भावना से पुरुष कभी भी एक महिला के बराबर नहीं हो सकता है, जिसके साथ प्रकृति ने उसे संपन्न किया है।

इन्हें भी देखें :



उम्मीद है Mahatma Gandhi के बारे में ये पोस्ट Mahatma Gandhi Quotes in Hindi आपको अच्छा लगा होगा। अपने विचार comments के माध्यम से अवश्य share करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: