Month: October 2018

dreams

Chase your Dreams | अपने सपनों का पीछा करें

October 29, 2018

Chase our dreams हम अपने बचपन से सुनते आ रहे हैं कि हमें अपने सपनों का पीछा करना चाहिए। We should chase our dreams. इसी से जुड़ी एक experience share करना चाहता हूँ। ये कुछ दिन पहले की बात है। मैं अपने cousin brother के साथ खेल रहा था। खेलते खेलते ही मैंने उसे पूछा, “बड़े होके […]

Read More
bachpan

Bachpan ki yaadein | आइये बचपन में चलें

October 26, 2018

आज अपने garden में टहल रहा था तो मेरी नज़र पास ही खेल रहे बच्चों पर पड़ी। वे बड़ी ही मासूमियत से खेल रहे थे। सहसा मेरी नज़रों के सामने मेरा bachpan नज़र आने लगा। तो, उन्हें disturb किये बिना ही मैं पास बैठ गया और उनकी बातें सुनने लगा। उनके खेलों को देखने लगा। […]

Read More
positivity

Positivity in Adversity in Hindi | विपरीत परिस्थितियों में सकारात्मक कैसे रहें

October 22, 2018

How to stay positive in adversity कितना अच्छा होता अगर life में सबकुछ अच्छा ही चलता रहता। But ऐसा होता नहीं है। Let’s see How to stay positive in adversity? कभी न कभी सबके life में bad time ज़रूर आता है। जब आपकी life में सबकुछ अच्छा चल रहा हो तो खुश रहना और carefree रहना […]

Read More
mistakes

Learn from your mistakes in Hindi | गलतियों को स्वीकार करें

October 18, 2018

Learn to accept your mistakes/गलतियों को स्वीकार करें Accept your mistakes – कितनी दफा हमने ये सुना होगा, but हममें से कितने लोग हैं, जो अपनी गलती को स्वीकार करते हैं ? उस गलती को अपने ऊपर हावी होने दिए बिना आगे बढ़ना और जीतना सीख लेते हैं। Mostly लोगों को लगता है कि almost सभी […]

Read More
sahi waqt

Sahi waqt | हमारे लिए सही वक़्त क्या है?

October 14, 2018

हमारे लिए सही वक़्त क्या है / Sahi waqt कभी-कभी हमारी ज़िन्दगी में ऐसा होता है कि हमें बहुत से मौके मिलते हैं। और हम इन मिले हुए मौकों को भुनाने में कामयाब नहीं हो पाते हैं।  Then ये कहकर सान्तवना देते हैं कि “probably, ये मेरे लिए sahi waqt नहीं था।” जब हम इन मौकों […]

Read More